गलती पर साथ छोड़ने वाले तो बहुत मिलते है* पर *गलती पर समझा

1 Comment

✍✍ *”गलती पर साथ छोड़ने वाले तो बहुत मिलते है*
पर
*गलती पर समझा कर साथ निभाने वाले बहुत कम मिलते है*
???? *”हमारी सभी अंगुलियां लंबाई में बराबर नहीं होती हैं,*
*किन्तु जब वे मुड़ती हैं तो बराबर दिखती हैं..!!”*
*इसी प्रकार यदि हम किन्हीं परिस्थितियों में थोड़ा सा झुक जातें है या तालमेल बिठा लेते हैं तो जिन्दगी बहुत आसान व् आनंदित हो जाती है।*????
*””सदा मुस्कुराते रहिये””*
*????हँसते रहिये हंसाते रहिये????*
*सुप्रभात*

Categories: Good Morning

One Reply to “गलती पर साथ छोड़ने वाले तो बहुत मिलते है* पर *गलती पर समझा”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *